ढाक का गोंद/ फूल के फायदे / ढाक की कणी के फायदे

ढाक का गोंद/ फूल के फायदे / ढाक की कणी के फायदे – ढाक का गोंद जिसे पलाश के नामसे भी जाना जाता हैं. यह एक फुल है. जो वसंत ऋतू में खिलता हैं. ढाक का फुल सफ़ेद, पीला और लाल तीन रंग में पाया जाता हैं. ढाक के गोंद को आयुर्वेदिक में काफी अधिक महत्व दिया गया हैं.

Dhak-ka-gond-fool-kani-ke-fayde-kya-hoti-h (3)

ढाक का फुल मनुष्य के लिए कोई वरदान से कम नहीं हैं. इसके गुणों के बारे में काफी लोग जानते हैं. लेकिन यह फुल हमारी काफी सारी बीमारी दूर करने में हमारी मदद करता हैं.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ढाक का गोंद के फायदे तथा ढाक के फूल के फायदे बताने वाले हैं. इसके अलावा यह भी बताने वाले है की ढाक की कणी क्या है. यह सभी महत्वपूर्ण और संपूर्ण जानकारी पाने के लिए हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

ढाक का गोंद के फायदे / ढाक की कणी के फायदे

ढाक का गोंद के फायदे हमने नीचे बताए हैं.

  • अगर किसी को डायबिटीज की बीमारी हैं. तो हाईब्लड प्रेशर से परेशान है. तो ढाक गोंद के पत्तो का सेवन करने से डायबिटीज की बीमारी में राहत मिलती हैं.
  • ढाक गोंद के पत्तो का सेवन करने से कफ और पित में भी फायदा होता हैं.
  • अगर किसी को पेट से संबंधित बीमारी हैं. तो ढाक गोंद का सेवन नियमित रूप से करने से पेट से जुडी सभी समस्या से छुटकारा मिलता हैं.
  • अगर कोई महिला योनि संक्रमण तथा ल्यूकोरिया की बीमारी से पीड़ित हैं. तो ढाक गोंद के पत्तो का काढ़ा बनाकर पीने से योनि संक्रमण तथा ल्यूकोरिया जैसी परेशानी से छुटकारा मिलता हैं.
  • अगर किसी के पेट में कीड़े पड गए है. तो कीड़े नष्ट करने के लिए ढाक गोंद के बीज का पाउडर बनाकर शहद के साथ लेने से फायदा होता हैं.

Dhak-ka-gond-fool-kani-ke-fayde-kya-hoti-h (1)

सबसे अच्छी बियर कौन सी है / सबसे सस्ती और महंगी बियर कौन सी है

ढाक की कणी क्या है

ढाक की कणी जिसे टेसू या पलाश के फुल के नाम से भी जाना जाता हैं. अलग-अलग भाषा में इसको अलग-अलग नाम से जाना जाता हैं.

दीमक मारने का उपाय / दीमक मारने की दवा price, दवा का नाम तथा कीटनाशक

ढाक के फूल के फायदे

ढाक को पलाश के फुल के नाम से भी जाना जाता हैं. ढाक के फुल के फायदे हमने नीचे बताए हैं.

  • अगर किसी को त्वचा संबंधी परेशानी है. त्वचा पर खुजली आदि की समस्या उत्पन्न हो गई है. तो ढाक के फुल के बीज की पेस्ट बनाकर त्वचा पर लगाने से त्वचा संबंधित विकार दूर हो जाते हैं.
  • ढाक के फुल बुखार आदि की समस्या में भी फायदेमंद साबित होता हैं. ढाक के फुल से हमारी इम्युनिटी सिस्टम अच्छी बनती हैं.
  • अगर किसी को भूख नहीं लगती है. तो ढाक की जड का रस निकालकर चार से पांच बूंद पान के पत्तो पर लगाकर सेवन करने से भूख में बढ़ोतरी होती हैं.
  • अगर किसी को काफी ज्यादा दस्त हो रहे है. दस्त रुकने का नाम नहीं ले रहे है. तो एक चम्मच ढाक के बीज का काढ़ा बनाकर एक चम्मच बकरी के दूध के साथ मिलाकर पीने से दस्त की समस्या से छुटकारा मिलता हैं.
  • अगर किसी को घुटने में दर्द है. तो ढाक के फुल का सेवन करने से घटने दर्द से राहत मिलती हैं.
  • अगर किसी को नाक में से खून बहने की समस्या है. तो ढाक का फुल इसमें फायदेमंद होता हैं. इसके लिए आप 100 मिली जितना पानी लेकर उसमे पांच से सात ढाक के फुल डालकर रात भर भिगोने के लिए रख दे. अब सुबह उठकर पानी को छानकर मिश्री के साथ लेने से नाक से बहता हुआ खून बंध हो जाएगा.

Dhak-ka-gond-fool-kani-ke-fayde-kya-hoti-h (2)

हाथ के नाख़ून पर सफ़ेद निशान का मतलब होता है

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ढाक का गोंद के फायदे तथा ढाक के फूल के फायदे बताए हैं. इसके अलावा यह भी बताया की ढाक की कणी क्या है. हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ है तो आगे जरुर शेयर करे.

हम आशा करते है की आपको हमारा यह ढाक का गोंद/ फूल के फायदे / ढाक की कणी के फायदे आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

महोगनी लकड़ी की कीमत / महोगनी पेड़ की पहचान महोगनी का पेड़ कहां मिलता है

Puri duniya main kitne log hain | पूरी दुनिया में कितने लोग रहते हैं

मकान घर के बाहर का कलर कैसा होना चाहिए – सम्पूर्ण जानकारी

Leave a Comment